सोमवार, 28 मई 2018

रिश्तो का कत्ल भाग 3

सभी के जाने के बाद अवंतिका  मन ही मन बडबडाते हुए , जल्दी जल्दी सफाई कर लेती हु फिर अभी रंजित को भी दवाई देनी बाकि है उसके बाद नहाना फिर खाना बनाना है / सफाई करने के बाद अवंतिका रंजित को दवाई देती है ये लो रंजित दवाई, भगवान जिंदगी में क्या क्या खेल खलता है हे  ईश्वर मेरे रंजित को जल्द ठीक कर दो / रंजित को दवाई देने के बाद अवंतिका नहाने चली जाती है और फिर पूजा की तैयारी करने लगती है  / और पूजा घर में भगवान की पूजा में मग्न हो जाती है /
सारे काम करने के बाद दरवाजे पर घंटी बजती है अवंतिका दरवाज़ा खोलती है अरे स्पंदना तुम आ गई जल्दी से कपडे चेंज कर लो फिर दोनों साथ में खाना खाते है और बता आज स्कूल में क्या क्या हुआ / दोनों स्पंदना और अवंतिका खाना खाने के बाद आराम करने लगते है और इस बीच में स्पंदना सो जाती है /
अवंतिका स्पंदना से स्पंदना स्पंदना बेटा उठो स्कूल से आने के बाद तो तुम इस तरह सो जाती हो की तुम्हे उठना ही नहीं होता है अभी अगले हफ्ते से तुम्हारे टेस्ट भी तो चालू होने वाले है उठो भी बेटा ! 

आगे पड़े कहानी जारी है।

10 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर ..., कहानी के भाग की प्रतीक्षा रहेगी ।

    जवाब देंहटाएं
  2. बहुत खूबसूरत सृजन !

    जवाब देंहटाएं
  3. एक चलचित्र सा उभरता है कहानी पढ़कर
    बहुत अच्छी प्रस्तुति

    जवाब देंहटाएं
  4. वाह बेहतरीन रचनाओं का संगम।एक से बढ़कर एक प्रस्तुति।
    Bhojpuri Song Download

    जवाब देंहटाएं
  5. I enjoyed reading your blog its quite interesting! Seeking for dispensaries worry no more!
    Wonderful Blog! satta king
    Thank for sharing but may also work in your like commercially.
    Ask your dealer for a aggressive offer for a provided service that includes web site style, growth and hosting
    sattaking
    sattaking

    जवाब देंहटाएं
  6. आप का वर्णन बहुत ही बढ़िया है। अगली भाग के लिए प्रतीक्षा रहेगी।

    जवाब देंहटाएं
  7. बहुत अच्छा लेख है Movie4me you share a useful information.

    जवाब देंहटाएं
  8. https://www.blogger.com/comment.g?blogID=2527796009467110284&postID=7988189309188026457&page=1&token=1605088912834&isPopup=true

    जवाब देंहटाएं